उत्तर प्रदेश गोंडा संस्कृति

परिणय सूत्र में बंधें 22 जोड़े, डीएम, विधायक व अन्य जनप्रतिनिधियों ने नवदम्पत्तियों को दिया आशीर्वाद

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत 22 गरीब कन्याओं के हाथ हुए पीले
 
गोण्डा ! प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत बुधवार को 22 गरीब परिवारों की कन्याओं के हाथ पीले हुए और वे परणिय सूत्र में बंध गए। नगर के गोनार्द लाॅन में समाज कल्याण विभाग द्वारा आयोजित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 19 हिन्दू जोड़ों एवं 03 अल्पसंख्यक समुदाय के जोड़ो का विवाह पूरे रीति रिवाज के साथ सम्पन्न कराया गया।
विधायक सदर प्रतीक भूषण सिंह, डीएम कैप्ेटेन प्रभान्शु श्रीवास्तव, सीडीओ अशोक कुमार सहित अन्य जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों ने सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पहुंचकर नवदम्पत्तियों को सुखमय जीवन का आशीर्वाद दिया। परिणय सूत्र में बंधें सभी जोडो को समाज कल्याण विभाग की ओर से उपहार आर्थिक सहायता के रूप में एक डिनर सेट (51 पीस), परात, टंकी, लोटा, कटोरी,  04 साड़ी चुनरी सहित, अल्पसंख्यक जोड़ो को 02 साड़ी, 01सूट एवं नकाब, सेहरा इत्यादि, चांदी की पायलें एवं बिछिया, वधु हेतु चूड़ी सेट एवं श्रृंगार की सामग्री, वर हेतु पगड़ी, पैंट-शर्ट, गठबंधन हेतु वस्त्र वरमाला इत्यादि सामग्रियां निःशुल्क प्रदान की गईं। जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी वर्मा ने बताया कि मुख्यमत्री विवाह योजनान्तर्गत 02 लाख आय सीमा से नीचे के जीवन यापन करने वाले परिवार की बालिग पुत्री के विवाह में बीस हजार रूपए कन्या के खाते में एवं दस हजार रूपए की कन्यादान सामग्री व्यय की जाती है तथा पांच हजार रूपए विवाह कार्यक्रम सम्पादित किये जाने सहित कुल पैंतीस हजार रूपए की धनराशि प्रत्येक जोड़े पर व्यय की जाती है।
सामूहिक विवाह कार्यक्रम के दौरान पूर्व सांसद सत्यदेव सिंह, मेहनौन विधायक विनय कुमार द्विवेदी, पीयूष मिश्रा, जिलाध्यक्ष (भा0ज0पा0), वेद प्रकाश दुबे जन सम्पर्क अधिकारी मंत्री समाज कल्याण उ0प्र0 शासन, संजीव सिंह, प्रतिनिधि सांसद कैसरगंज, शारदाकान्त पाण्डेय जिलाध्यक्ष हिन्दू युवा वाहिनी, अनुपम मिश्रा, मीडिया प्रभारी भा0ज0पा0, पूर्व नपा चेयरमैन कमरूद्दीन, समाज कल्याण निरीक्षक राजेन्द्र सिंह, व अन्य ने विवाहित जोड़ो को उज्जवल भविष्य की शुभ कामना एवं आर्शीवचन प्रदान किया।