अज़ब ग़ज़ब अपराध कर्नाटक

प्रसाद बना दर्जनों की मौत का कारण, 70 पहुंचे अस्पताल

Written by Vaarta Desk

कई कौवे भी समाये काल के गाल में 

कर्नाटक: कर्नाटक में एक अजीब तरीके का मामला सामने आया है जिसमे मंदिर का प्रसाद खा कर दर्जन भर भक्तों की मौत हो गयी है | कई भक्तों को अस्पताल में भर्ती काराया गया है | लगभग एक दर्जन लोगों की हालत गंभीर है | भक्तों को मैसूरु और अन्य जगहों के अस्पतालों में करीब 70 लोग भर्ती कराया गया हैं|
मामला कर्नाटक के चामराजनगर जिले सुलावाड़ी गांव के किच्चुकुट्टी मारम्मा मंदिर का है | किच्चुकुट्टी मारम्मा मंदिर का प्रसाद इतना जहरीला था की प्रसाद खा कर कौऔ की भी मौत हो गयी |
प्रसाद न खाने वाले लोगों में शामिल रहे मरिअप्पा नाम के एक व्यक्ति ने कहा, ‘हमें पूजा के बाद टमाटर और चावल खाने को दिए गए थे चावल से बदबू आ रही थी | जिन लोगों ने इसे फेंक दिया वे ठीक हैं लेकिन जिन लोगों ने इसे खाया उन्हें उल्टियां शुरू हो गईं और पेट में दर्द होने लगा |
तालुका पंचायत के सदस्य मणि ने कहा, ‘मंदिर में आसपास के गांवों से लोग आए हुए थे इनमें ज्यादातर लोग मरटाहल्ली और वड्डरहल्ली गांवों के थे’
ये गांव चामराज जिले के हानुर तालुका के रामपुरा के आसपास पड़ते हैं|

क्या कहते हैं आई जी शरत चंद्र
मैसूर रेंज के आईजीपी एच.सी. शरत चंद्र ने जानकारी देते हुए बताया कि मरने वाले 11 लोगों में तीन महिलाएं हैं | हानुर कोल्लेगल और मैसूरु के अस्पतालों में लगभग 70 लोगों को भर्ती किया गया है | उन्होंने कहा कि अभी यह नहीं बताया जा सकता कि किसे किस अस्पताल में भर्ती किया गया है मगर 11 मरीज़ों की हालत गंभीर है |
मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी पीड़ितों का हाल जानने के लिए मैसूरु पहुंचे हुए हैं |
इस बीच पुलिस ने घटना स्थल से सैंपल लेकर फ़ॉरेंसिक लैब में जांच के लिए भेजे हैं | मगर जिस तरह से प्रसाद खाकर कौए भी मरे हैं उससे आशंका जताई जा रही है कि कीटनाशक के कारण मौतों हुई हो |