उत्तर प्रदेश गोंडा धर्म

अगहन पूर्णिमा मेला का शुभारम्भ, बलदाऊ महाराज को धारण कराये शीतकालीन बस्त्र

दाऊजी महाराज व माता रेवती जी के दर्शनों को उमडा अपार जनसैलाब

मथुरा (बलदेव)। सौर संवार उढ़ाय, प्यारी नेक सौर संवार, सिर सौ खस, पावन तर आई, शीत सतावे आए के पद के साथ रात्रि में बलदेव महाराज और रेवती मैया को शीत कालीन वस्त्र धारण कराए गए तो बलदेव स्थित बलदाऊ मंदिर दाऊजी महाराज और रेवती मैया के जयकारों से गुंजायमान हो उठा।
श्रद्धालु ब्रज के राजा बलदाऊ की एक झलक पाने को व्याकुल हो उठे। अगहन पूर्णिमा पर शीतकालीन वस्त्र धारण कराने के साथ ही श्री दाऊ महाराज पाटोत्सव व पूर्णिमा मेला का शुभारंभ हुआ। दाऊ महाराज की मखमल की रजाई में  रेशम का उपयोग करते हुए फूल, पत्ती, बेल, पक्षी आदि की जड़ाई की गयी थी। शीतकालीन वस्त्र इत्र की खुशबू से महक रहे थे। बलदाऊ महाराज का श्रृंगार भी अद्भुत था। हीरे, पन्ना, मोती से हुई नयनाभिराम साज-सज्जा को देख श्रद्धालु अभिभूत हो उठे। मंदिर भी रंग बिरंगी रोशनी से जगमग हो रहा था। सुबह से सायं तक मंदिर में पैर रखने के लिए जगह नहीं मिल रही थी। सुबह से श्रद्धालुओं के आने का क्रम शुरू हुआ और देर रात्रि तक चलता रहा। मंदिर में समाज गायन, आरती में भी श्रद्धालुओं ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।
मनाया गया दाऊजी महाराज का 438 वां पाटोत्सव
बल्देव-  ब्रज के राजा ठाकुर श्री दाऊजी महाराज का 438 वां पाटोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। पाटोत्सव के साथ ही दाऊजी का अगहन पूर्णिमा मेला भी शुरू हो गया, मेला का शुभारंभ ऊर्जा मंत्री के प्रतिनिधि सूर्यकान्त शर्मा व क्षेत्रीय विधायक पूरन प्रकाश ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किया।
आज प्रातः 4 बजे ही मंदिर को श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिया गया था।पाटोत्सव के अवसर पर दाऊजी महाराज व माता रैवती जी  का विशेष अभिषेक कर  श्रृंगार धारण कराया गया।दाऊजी महाराज की चरण पादुका की पूजा अर्चना आचार्य विष्णु जी महाराज ने कराई। भक्तों ने अपने इष्ट देव दाऊजी महाराज का माखन मिश्री का भोग लगाकर मनौती मांगी। इस अवसर पर देर रात्रि तक दर्शनों को भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती रही। मंदिर परिसर शहनाइयों की धुन से गुँजायमान हो रहा था।भक्त दाऊजी महाराज की जय। व माता रेवती जी के जयकारे लगा रहे थे ।
मेला उद्धघाटन के अवसर पर चैयरमैंन कमल कुमार पांडे, राकेश शर्मा, कृष्ण कांत शर्मा फरह चेयरमैन, सौंख चेयरमैन भरत सिंह,संजय दीक्षित, रिसीवर आर के पांडे, अवध तेहरिया त्रिलोकी पांडेय ,बृजेश पांडेय  ,सुरेश पांडेय , सुरेंद्र अग्रवाल, परमानंद, नारायण पांडेय, मधुकर पांडेय, राजेश पांडे, ऋषि पांडेय, श्रीकांत पांडेय, राधा कृष्ण मैनन, अंशुल अग्रवाल,सुजीत वर्मा, आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे ।
सभी अतिथियों का चैयरमैंन कमलकुमार पांडेय ने स्वागत किया।
दाऊजी व रेवती मैया की रजाई में लगता है 75 मीटर कपड़ा
सर्दी में दाऊजी को विशेष रजाई ओढ़ाई जाती है जो अगहन पूर्णिमा से दाऊजी महाराज को धारण कराई जायेगी। पुजारी रामनिवास शर्मा ने बताया कि दाऊजी व रेवती मैया की रजाई में 75 मीटर कपड़ा लगता है। जिसमें 12 किलो रुई भरी जाती है। कोट बनाने के लिए 56 मीटर गर्म कपड़ा लगता है।