अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा

पुलिस अभिरक्षा से भागा आरोपी, सिपाही की तबीयत हुई खराब

Written by Ashfaq shah

गोण्डा। जिला चिकित्सालय के आकस्मिक कक्ष के बाहर दोपहर मे उस समय हडकम्प मच गया जब एक सिपाही व एक होमगार्ड चिकित्सालय के बाहर पकडो पकडों का शोर मचाते हुए चिकित्सालय के बाहर की ओर बदहवास दौडने लगे। लोगों को पहले तो कुछ समझ में ही नही आया कि मामला क्या है किन्तु चिक्तिसालय के कर्मचारियों के द्वारा भी जब शोर मचाया गया कि आरोपी के पकडो तो लोगों को समझ मे आया कि पुलिस की अभिरक्षा से आरोपी फरार हो गया है जिसे पकडने के लिए ही पुलिस चिल्लातें हुए भाग रही है।
मामला जिला चिकित्सालय के आपातकालीन कक्ष का है जहां थाना मोतीगंज पुलिस द्वारा लाया गया एनडीपीएस का एक आरेपी चिकित्सीय परीक्षण के लिए लाया गया था जो कि पुलिस अभिरक्षा में  हथकडी से हाथ निकाल कर फरार हो गया। साथ में पुलिस वाले जब तक कुछ समझते आरोपी चिकित्सालय के बाहर तक जा चुका था, होश में आने पर पुलिस वाले पकडों पकडों का शोर मचाते हुए चिकित्सालय की मेन गेट की ओर दौड मचाने लगे, पुलिस को शोर मचाते और भागते देख लोग पहते तो सकते में आ गये फिर जब चिकित्सालय कर्मियों ने भी पकडो पकडों का शोर मचाना आरम्भ किया तब लोगो ंको समझ मे ंआ गया कि कोई आरेपी पुलिस अभिरक्षा से फरार होने में कामयाब हो गया हैं।
इस घटना से पुलिस वालों के हाथ पावं फूल गये, आनन फानन मे ंभागते हुए आरोपी को चिकित्सालय के बगल की ओर बसे छेदीपुरवा के खेतों से खेल रहे बच्चों के सहयोग से किसी तरह पकडा जा सका। मामला थाना मोतीगंज का है आरोपी घनश्याम पुत्र मंगलप्रसाद निवासी पैडनिया कौराहे को एनडीपीएस एक्ट के तहत गांजा बरामद होने पर मुकदमा लिख जेल भेजा जाना था, उसे सिपाही राहुल यादव व एक होमगार्ड के साथ चिकित्सीय परीक्षा हेतु चिकित्सालय लाया गया था।
मेडिकल होने से पहले ही आरोपी हथकडी ढीली होने का लाभ उठाते हुए हाथ निकाल कर भाग खडा हुआ। नाम पुकारे जाने पर जब सिपाहियों ने घूम कर देखा तो उनके पैरो तले जमीन खिसक गयी। बाहर निगाह दौडाने पर आरोपी घनश्याम भागता दिखाई पडा, जिसे आधे घंटे तक कडी मेहनत के प्श्चात छेदीपुरवा स्थित खेत से बच्चों के सहयोग से पकडा जा सका। अभिरक्षा में लगे सिपाहियों की इस घटना से अचानक तबीयत खराब हो गयी। सिपाही राहुल यादव जहां हायपर टेशन का शिकार हो गया वहीं होमगार्ड आरोपी को पकडने मे ंकटीले तारों से घायल भी हो गया। आरोपी के पकडे जाने पर दोनों सिपाहियों ने राहत की सांस ली।