उत्तर प्रदेश गोंडा स्वास्थ्य

अबतक किये गए 527 मरीजों के ऑपरेशन, राष्ट्ीय अधंता एवं दृष्टि क्षीणता नियंत्रण कार्यक्रम

Written by Ashfaq shah

गोण्डा। राष्ट्ीय अधंता एवं दृष्टि क्षीणता नियंत्रण कार्यक्रम व विषेश मोतियाबिंद आपरेशन कार्यक्रम के तहत 21 नवम्बर से 20 दिसम्बर तक 4296 मरीज अब तक देखें जा चुके हैं। इनमें से 1028 मरीजों के नजर की जाचं की गयी, 527 मरीजों का कुल आपरेशन पूरे जनपद में किया गया है।
विदित हो कि एक दिसम्बर से पन्द्रह दिसम्बर तक विषेश मोतियाबिंद आपरेशन पखवाडा राष्ट्ीय अंधता एवं दृष्टिक्षीणता नियंत्रण काय्रक्रम के तहत मनाया गया जिसमें विषेश रूप से जिले के समस्त सीएचसी पीएचसी के गावोंं से 4296 मरीजों को देखा गया इनमें से मात्र 527 मरीजों का ही आपरेशन इस कार्यक्रम के तहत किया जा सका है। जानकारी के अनुसार आईओएल तकनीक के द्वारा स बार सभी आपरेशन किये गये। इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है इस बारे में आपरेशन से सम्बधि्ांत तकनीकी जानकारी देते हुए डा0 पी के श्रीवास्तव ने बताया कि आपरेशन दो तकनीको से किया गया है जिनमें एसआईसीएस व फेकों तकनीक अपनायी गयी है इस तकनीक के द्वारा आईसीएस से 506 मरीज व फेको विधि से 21 मरीजों का आपरेशन किया गया है।
डा0 विकास सेठी ने बताया कि सर्जरी में विशेष सर्तकता की आवश्यकता होती है, फेकों विधि एक जटिल विधि है जिसमें तकनीक के द्वारा उत्कृष्ठ रूप् से आखों की सर्जरी की जाती है, भविष्य मेें कुछ नयी तकनीक चिकित्सालय को सौगात में मिलने वाली है जिसके विषय में बताते हुए डा0 पीके श्रीवास्तव ने कहा कि भविष्य में शीघ्र ही डायबिटिक रेटीनों पैथी एवं डायबिटिक हायपर टेंसिल रेटिनोंपैथी का प्रयोग किया जायेगा जिसके द्वारा पर्दे की अन्य बीमारियों की स्क्रीनिंग जिला चिकित्सालय में ही उपलब्ध होगी। उन्होनेंं बताया कि बीपी व सुगर की वजह से पर्दे में सूजन आना खून जम जाना की वजह से रोशनी कम हो जाने की परेशानियों का इलाज जिले से ही संभव होगा, इसके लिए शीघ्र ही सीएमएस से डिमांड आर्डर की जायेगी।
जिला चिकित्सालय के नेत्र विषेशज्ञों के द्वारा किये गये सफल सर्जरी पर निगाह डालने से पता चलता है कि 210 आपरेशन कर डा0 योगेश चन्द श्रीवास्तव प्रथम स्थान पर, 122 आपरेशन करने वाले डा0 पी के श्रीवास्तव द्वितीय स्थान, 83 आपरेशन कर डा0 बी के वर्मा तृतीय स्थान पर रहे। डा0 संजय शर्मा 69, डा0 विकास सेटठी के द्वारा 43 आपरेशन किये गये। जिला चिकित्सालय स्थित नेत्र आपरेशन मे लगी विषेशज्ञों की टीम में नेत्र परीक्षा अधिकारी मनोज कुमार श्रीवास्तव, निशा वर्मा, रिया सिंह, सावित्री चौधरी स्टाफ नर्स, ओटी सहायक संतराम, हाउस कीपर प्रमोद कुमार, के नाम शामिल हैं।

About the author

Ashfaq shah

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz
%d bloggers like this: