अज़ब ग़ज़ब उत्तर प्रदेश गोंडा स्वास्थ्य

दो दिनों से सड़ रहा गोवंश, जिला चिकित्सालय को नहीं लगी भनक

Written by Ashfaq shah

दुर्गंद में ही काम करते रहे जिम्मेदार, कार्यवाही की नहीं समझी जरूरत 

गोण्डा। जिला चिकित्सालय परिसर स्थित गौवशं की मृत्यू के प्श्चात उठ रही दुर्गन्ध से चिक्तिसालय स्थित कई विभाग एवं मुख्य चिक्तिसाधिकारी कार्यालय के कर्मचारियों का कार्य करना दूभर हो गया है। विगत दो दिनों से एक गौवशं मरा पडा है और लोगों को इसकी जानकारी होने के बाद भी कोई उसे वहां से हटवाने के लिए चिन्तित दिखाई नहीं दे रहा। जिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्साधीक्षक को सूचना देने के प्श्चात दो दिनों के बाद उस गौवशं को हटाने की प्रक्रिया शुरू की जा सकी।

जानकारी के अनुसार जिला चिकित्सालय परिसर स्थित सीएमओ कार्यालय के पीछे लाश घर के पास एक गौवशं की लाश दो दिनों से पडी सड रही थी इस बारे में लोगों को जानकारी उस समय हुयी जब उधर से दुर्गन्ध आनी शुरू हुयी। पहले तो लोगो ंने समझा कि शायद मरचरी मे ंकोई ऐसी लाश पडी है जो सड रही है किन्तु जब लोग मरचरी पहुचें तो वहां कोई भी लाश नहीं दिखाई दी। जब दो दिन बीत गये और गौवश बुरी तरह सड कर फूल गया और उसमें से असहनीय दुर्गन्ध आनी आरम्भ हुयी तो टीवी क्लीनिक, सीएमओ कार्यालय, आयुष.दवाखाना एवं ह्दय रोग विभाग में कार्यरत कर्मचारियों व डाक्टरों का कार्य करना दूभर हो गया। इन सब परेशानियों के बावजूद किसी ने भी इसकी शिकायत या इस समस्या के निराकरण के लिए कोई प्रयास करना उचित नही ंसमझा और गौवशं इसी तरह पडा दुर्गन्ध फैलाता रहा।

अस्पताल परिसर के बाहर आस पास के लोगो ने जब इसकी जानकारी हमारे संवाददाता को दी तो मौके पर जाकर गहनता से देखने पर पता चला कि मरचरी केपीछे स्थित बने एक बहुत ही पतले गली में एक गौवशं मरा हुआ पडा है जो विगत दो दिनों से वहा पडा था। चिकित्सालय के बगल रहने वाले असलम ठेकेदार, मोनू, अरशद ने बताया कि दो दिनों से पूरे इलाके में बदबू फैली हुयी है जिससे परेशानी हो रही है लेकिन यह समझ में नहीं आ रहा था कि यह लाश हे या फिर किसी मरे हुए जानवर का अंश।

इस बारे में सीएमएस डा0 वीरपाल िंसंह को जब इसकी सूचना दी गयी तो उन्होनेंं अफसोस जाहिर करते हुए कहा कि वे तत्काल ही उसको वहां से हटवाने की व्यवस्था करते हैं और सम्बधिंत को इसकी सूचना देगें।