उत्तर प्रदेश गोंडा स्वास्थ्य

युपीएचएसएसपी के दौरे से सकते में चिकित्सालय प्रशासन, युद्धस्तर पर जुटा कमियों पर पर्दा डालने में

Written by Ashfaq shah

गोण्डा। जिला चिकित्सालय की जमीनी हकीकत को परखने के लिए एवं उसका फिल्मांकन कर सूबे के मुखिया को उस हकीकत से रूबरू कराने के लिए एक उच्चस्तरीय टीम शनिवार 5 जनवरी को सुबह लगभग नौ बजे जिला चिकित्सालय पहुचेंगी। प्रदेश स्तरीय यूपीएचएसएसपी टीम के जिला चिकित्सालय पहुचंने पर जहां जिला चिकित्सालय प्रशासन एलर्ट मोड पर है वहीं मेसर्स प्राइम क्लीनर्स के जिम्मेदारों एवं कर्मचारियो ंमें उसके यहां पहुचने से खलबली मची हुयी है।

शनिवार को सुबह करीब नौ बजे प्रदेश स्तरीय यूपीएचएसएसपी की एक टीम जिला चिकित्सालय के अन्दर उत्तर प्रदेश हेल्थ स्ट्ेन्थ सिस्टम के तहत उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं की जमीनी हकीकत परखने के साथ ही मरीजों की दी जाने वाली आवश्यक सेवाओं का भी हाल जानेगी। वह चिकित्सालय की स्वच्छता सुन्दरता एवं सहूलियत के विषय पर एवं वृत्ति चित्र का फिल्मांकन भी करेगी जिसे मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ को दिखाया भी जायेगा। विदित हो कि जिला चिकित्सालय की स्वच्छता और सुंन्दरता को देखते हुए प्रदेश

स्वास्थ्य प्रशासन ने गोण्डा जिला चिकित्सालय को प्रदेश के टाप फाइव सूची मेंं जगह दी है जिसकी हकीकत का फिल्मांकन किया जायेगा।
जिला चिकित्सालय प्रशासन टीम मे आगमन से पूर्व ही चिकित्सालय को आल इस वेल बनाने में एक दिन पूर्व ही जुट गया। युद्वस्तर पर जारी कार्य के लिए चिकित्सायल की साफ सफाइ्र व्ववस्था देख रही मेसर्स प्राइम क्लीनर्स ने अपने समस्त कर्मचारियों को चौबीस घ्ांंटे वर्किग मोड पर रखते हुए शुक्रवार की सुबह आठ बजे से ही उन्हे झोक रंखा है। टीम को कही कोई कमी न मिले की थीम पर चिकित्सालय के प्रत्येक गलियारें को गमलों के द्वारा सजाया संवारा जायेगा और इस बार हैंगिंग गाडिर्निग को भी काकटेल बनाया जा रहा है। ओपीडी एवं कार्यालय को भी पौधों एवं गमलों से सुसज्जित किया जायेगा। साफ सफाई, कूडा निस्तारण, साज सज्जा को नया लुक देते हुए रूम फ्रेशनर सहित पूरे चिकित्सालय को महकाने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए लगभग डेढ सो कीमती पौघों को आनन फानन में मंगाया गया है इनमें पाम, करोटन, बेंत के पौधें शामिल हैं। इस बार नये लोहे के तारें से बने हल्के फुल्के स्टील फैब्रीकेटेट गमला स्टैण्ड भी प्रयोग में लाये जोयगें।

वर्षो से साफ सफाई व्यवस्था को लेकर अपने जिला स्तरीय अधिकारियों से फटकार सुनने वाली मेसर्स प्राइम क्लीनर्स कम्पनी के कर्मचारियों के द्वारा जिला चिकित्सालय के अन्दर अत्यंत ही गम्भीर रूप से लापरवाही साफ सफाई के प्रति बरती जाती रही है विगत माह अक्टूबर में आयी एक उच्च प्रदेश स्तरीय कमेटी ने भी प्राइम क्लीनर्स को फटकार लगाई थी। विगत कुछ दिनों से इस कम्पनी ने अपने कर्मचारियों में बदलाव करते हुए नये रूप् से कार्य प्रारम्भ किया जिसका नतीजा यह हुआ कि कुछ हद तक साफ सफाई की अव्यवस्था पर अकुंश लगा और कार्य में बदलाव दिखा जिससे चिकित्सालय प्रशासन ने स्वच्छता एवं सुन्दरता में विषेश रूप् से अप्रत्याशित परिणाम प्राप्त किये। टीम के आगमन से पूर्व जिला चिकित्सालय प्रशासन ने युद्वस्तर पर साफ सफाई एवं सुन्दरता के लिए अपनी सारी ताकत आल इस वेल करने में झोक दी है।

About the author

Ashfaq shah

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz
%d bloggers like this: