अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा

मामूली विवाद में हुई हत्या खोल रही पुलिसिया नाकामी की पोल

Written by Ashfaq shah

तरबगंज (गोण्डा)। थाना तरबगंज क्षेत्र में जमीनी विवाद के चलते एक वृद्व की हत्या कर दी गयी। इस घटना में मृतक के परिवार के ही दो अन्य लोग भी घायल हुए हैं पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच आरम्भ कर दी।

घटना जनपद के थाना तरबगंज स्थित सिझिया गांव की है जहां रविवार की दोपहर लगभग ढाई बजे एक ही गांव के दो पक्षों के बीच हुए जमीनी विवाद में मारपीट के दौरान साढ वर्षीय वृद्व रामधीरज पुत्र बद्रीनाथ निवासी सिझिया के गम्भीर रूप से घायल होने के कारण मौके पर ही मौत हो गयी, वहीं दो अन्य कुवरं बहादुर पुत्र रामधीरज, गुलाब सिंह पुत्र दामाद रामधीरज गम्भीर रूप् से घायल हो गये। घर वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, मौके पर पहुची पुलिस ने सभी घायलों को सीएचसी तरबगंज पहुचाया जहां डाक्टरो ंने उन्हें जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया। जिला चिकित्सालय पहुचने पंर डयूटी पर तैनात ईएमओं डाक्टर टी पी जायसवाल ने रामधीरज को मृत घोषित कर दिया। जबकि घायल कुवर बहादुर और गुलाब को प्राथमिक चिकित्सा के उपरांत घर भेज दिया।

घटना के बारे में मृतक रामधीरज के पुत्र कुंवर बहादुर व दामाद गुलाब सिंह ने बताया कि विपक्षीगण रामलोटन पुत्र तिलकराम, भोला पुत्र राजेश, तिलकराम पुत्र मिलन, रामफेर पुत्र प्रसादे, राजेश पुत्र ज्ञानू निवासीगण सिझिया जबरन उनकी जमीन पर ईटे गिरवाकर निर्माण कर कब्जा कर लेना चाहते हैं। इन लोगों ने ग्राम सभा के सार्वजनिक मार्ग को भी अवरूद्व कर रखा है और उनका रास्ता भी बंद कर दिया है। आज लगभग ढाई बजे सभी विपक्षी इकटठा होकर निर्माण करवाने लगे, विरोध करने पर हम लोगो ंपर अचानक चाकू गडासा, लाठियों से हमला कर दिया, गुहार लगाने पर जब तक गावं वाले पहुचतें सभी घटना स्थल से भाग गये। कुवर बहादुर ने बताय कि इस मारपीट में हमारे पिता रामधीरज को बहुत बुरी तरह से मारा गया था जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गयी थी जिसकी पुष्टि जिला चिकित्सालय में डाक्टरो ंने कर दी। इस सम्बध्ां मे ंथाना तरबगंज में कुंवर बहादुर ने पाचं लोगों के विरूद्व नामजद तहरीर दी है।

थाना तरबगंज प्रभारी संजय दूबे का कहना है कि इस मामले में दोनो ंपक्षो ंके बीच आज नाली निर्माण को लेकर मामूली सी बात पर मारपीट हुयी थी जिसमें दोनों पक्षो ंसे लोग घायल हैं। सूचना मिलने पर वे स्वयं मौके पर गये थे और घायलों को चिकित्सालय भी पहुचाया गया जहां से उन्हें गोण्डा रिफर कर दिया गया जहां पता चला कि रामधीरज की मृत्यू हो गयी है। इस सम्बध में तहरीर मिली है। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जिसे मुकदमा अपराध संख्या 8/19, धारा 308, 323 के तहत दर्ज भी कर लिया गया था किन्तु मौत की सूचना मिलने पर अब इसे हत्या के मामले बदला जा रहा है। इस सम्बध में जाच आरम्भ कर दी गयी है जल्द ही आरोपियों को गिरफतार भी कर लिया जायेगा।

दिनों दिन जिले में बढ रहे जघन्य अपराधों में अब कोई अकुंश लगाने वाला नही रहा। थानों से सेटिंग गेटिंग के जरिये अपराध करने वालों को अभयदान अपराध कराने के लिए अभयदान के साथ ही वसूली के जरिये जनपद के अपराध पर अकुंश लगाने का ख्वाब देख रही जिला पुलिस बढ रहे अपराध पर धृतरार्ष्ट बनी हुयी है। जिले में आये दिन लूट, चोरी, हत्या जैसे अपराध प्रतिदिन घटित हो रहे हैं और जिले के आला अधिकारी फील गुड का अहसास कराने के लिए रोजाना अध्धी ब्लेड, कच्ची शराब, अवेध चाकू, नशीली दवाओं आदि के साथ गिरफतारी और बरामदगी दिखा अपनी पीठ अपने हाथों थपथपा रहे हैं।