अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा

कहीं हत्या को दुर्घटना दिखाने का प्रयास तो नहीं है मंगलनगर में घटी घटना, महिला की लाश हुई मर्चरी के हवाले

Written by Ashfaq shah

मृत अज्ञात वृद्ध महिला की शिनाख्त बनी चुनौती

खरगुपुर गोण्डा। जनपद के थाना खरगूपुर क्षेत्र के मंगलनगर में हुए सडक दुर्घटना में संदिग्घ रूप से एक पैसढ वर्षीय अज्ञात वृद्व महिला की म्त्यू हो गयी, घटना शनिवार की लगभग बारह बजे की हैं।

थाना खरगुपुर क्षेत्र के मंगलनगर के पास कथित रूप से एक तेज रफतार मोटर साइकिल ने दो लोगों को टक्कर मार दी और फरार हो गया। घटना के प्श्चात घायलों को मंगलनगर के ही रहने वाले चन्द्रभवन विश्वकर्मा पुत्र आरती विश्वकर्मा अपने कार से लेकर पहले पीएचसी रूपईडीह पहुचें जहां 38 वर्षीय अज्ञात महिला को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया वहीं गम्भीर रूप से घायल अज्ञात पैसढ वर्षीय महिला को जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया। पीएचसी रूपईडीह के डाक्टर शिवकुमार के अनुसार एक पैतीस वर्षीय महिला एवं एक पैसढ वर्षीय अज्ञात महिला को घायल अवस्था में पीएचसी पर एक व्यक्ति द्वारा लाया गया था। दोनों ही महिलाओ के बारे में जानकारी करने पर उन्होनें बताया कि लाने वाला व्यक्ति भी उन दोनों लोगों को नहीं जानता था, गम्भीर घायल महिला को लेकर वह व्यक्ति जिला चिकित्सायल पहुचा जहां उसे दोपहर दो बजकर बीस मिनट पर भर्ती कर लिया गया। महिला की अत्यन्त गम्भीर अवस्था के चलते सर्जन डा0 डी एन सिंह को बुलाया गया। घंटो लगे रहने के प्श्चात भी महिला की स्थिति में सुधार न होता देख उन्होनें उसे लखनउ के लिए रिफर कर दिया। जब महिला को ले जाने के लिए एम्बुलेंस पहुची तो परिजनों की अनुपस्थिति में उसने घायल को ले जाने से इन्कार कर दिया। चिकित्सालय द्वारा पुलिस को दी गयी सुचना पर पुलिस ने चिकित्सालय प्रशासन को आश्वासन देते हुए कहा ि कवे मरीज को भेजे किन्तु कोतवाली नगर पुलिस ने किसी को नहीं भेजा। महिला की स्थिति बिगडते देख आनन फानन में सीएमएस ने चिकित्सालय के वार्ड व्याय साबिर को अटैन्डेन्ट के रूप् में घायल महिला के साथ भेजा जहां करनैलगंज के पास पहुचतें ही घायल महिला की मौत हो गयी जिसे जिला चिकित्सालय के मर्चरी में रखवा दिया गया।

यह महिला कौन ह,ै वह कैसे घायल हुयी, और कहा की रहने वाली है इस बारे में न ही स्थानीय लोगों को इसकी जानकारी है न ही पीएचसी रूपईडीह के किसी डाक्टर को ही जानकारी है और न ही चिकित्सालय में कोई इसका रिकार्ड ही दर्ज किया गया। वह लावारिस अवस्था में जिला चिकित्सायलय के मर्चरी में बन्द पडी है।

सम्पूर्ण घटनाक्रम में महिला की मौत रहस्यमयी और सदिंग्ध होती जा रही है। घटनाक्रम की कडिया अलग अलग होने के चलते महिला की शिनाख्त भी मुश्किल हो गयी है। शनिवार की दोपहर हुए इस दुर्घटना की इस कडी में ंएक ही नाम सामने आया है जो मंगलनगर के रहने वाले चन्द्रभवन विश्वकर्मा हैं। वह अपनी कार से महिला की मदक के लिए उसे लेकर पीएचसी रूप्ईडीह और जिला चिकित्सालय पहुचें। और उसे भर्ती कराया। जिनसे सम्पर्क नहीं हो पाया है। पीएचसी के ही डाक्टर अंसार अहमद व शिवकुमार के साथ ही जिला चिकित्सालय के डाक्टर डीएन सिंह के अनुसार चन्द्रभवन ने पूछने पर महिला के बारे में यही बताया कि उसे किसी मोटरसाइकिल वाले ने टक्कर मार दी और वह सडक के किनारे घायल पडी हुयी थी जबकि दूसरी घायल महिला का कहना था कि वह बृद्व को बचाने में ही घायल हुयी थी किन्तु वह भी उसे नही जानती थी।

इस बारे में जानकारी के लिए एसओ खरगूपुर से जब पूछा गया कि थाना क्षेत्र से किसी वृद्व महिला के खो जाने या फिर मंगलनगर के पास किसी सडक दुर्घटना में किसी की मौत हो जाने की उन्हें जानकारी है तो उन्होनें इन्कार करते हुए कहा कि उन्हें इस तरह की कोई जानकारी नहीं है और न ही किसी मिसिंग की ही कोई सूचना है। अब आपके द्वारा जानकारी हुयी है तो पता करने का प्रयास किया जायेगा।
दोपहर लगभग बारह बजे की यह घटना घटित होने का कोई प्रत्यक्षदर्शी अभी तक सामने नही आया है। और न ही किसी को महिला के बारे में या घटना के बारे में ही जानकारी है इन सभी बातों से यह सडक दुर्घटना ही संदिग्ध प्रतीत हो रही है जिसमें वृद्व की मौत हो गयी है। यह ऐसा प्रतीत होता है कि महिला की हत्या कर बहुत ही सफाई के साथ उसे ठिकाने लगाने का प्रयास लिखा पढी करते हुए सबके सामने दर्ज करा कर किया जा रहा है। मौत के प्श्चात बत्तीस घंटे बीत जाने के बाद भी न ही महिला की कोई शिनाख्त हो पायी है और न ही अभी तक उसका कोई वारिस ही सामने आया है।

About the author

Ashfaq shah

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz
%d bloggers like this: