अपराध उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य

डाक्टर ने किया मरीज के साथ गैगंरेप, तीन गिरफतार, नर्स भी शामिल

आईसीयू में भर्ती थी पीडित महिला, महिला के पास लेटा मिला वार्ड व्वाय

मेरठ। निजी नसिंग होम किस तरह सेक्स अडडो मे ंतब्दील होते जा रहे है जिसका जीता जागता प्रमाण निकला जनपद का एक निजी चिकित्सालय जहां बीमारी के चलते भर्ती हुए महिला को वहीे के डाक्टर सहित अन्य तीन लोगों ने अपनी हवस का शिकार बना डाला, हालकिं मामला खुलने पर पुलिस ने सभी के विरूद्व प्राथमिकी दर्ज करते हुए तीन आरोपियों को गिरफतार कर लिया है जबकि एक आरोपी फरार बताया जा रहा है।

घटना विगत 21 मार्च की है जब सांस लेने में दिक्कत के कारण एक महिला को जनपद के एक प्रतिष्ठित निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जिसे कुछ और परेशानी के चलते आईसीयू में शिफट कर दिया गया। पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक आईसीयू में पीडित महिला को पहले तो नर्स ने एक नशे का इन्जेक्शन दिया, बेहोश होने के बाद उसके साथ गैंगरेप किया गया। महिला के अपने साथ हुए इस कृत्य का पता तब चला जब उसे होश आया और उसने वार्ड ब्वाय को अपने पास लेटा हुआ देखा। वार्ड व्वाय को अपने पास लेट देख महिला ने शोर मचाया शोर सुनकर महिला का पति जब तक आईसीयू में पहुचता आरोपी वार्ड व्वाय भाग निकला।

महिला के मेडिकल परीक्षण में रेप की पुष्टि होने पर पुलिस ने धारा 376 के तहत चिकित्सालय की नर्स लक्ष्मी, नियाज, शादाब, और अशोक मलिक के विरूद्व मुकदमा दर्ज कर लिया।