अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा

हत्यारों ने दी पोलिस को चुनौती, पीट पीटकर की किसान की हत्या

          कटरा बाजार (गोण्डा) अपराध को बढ़ावा देते अपराधी बिल्कुल बेखौफ़ हो चुके है और इन पर कानून का कोई खौफ नही रह गया है …. कुछ यही कारण है कि ये अपराधी दिन दहाड़े हत्या जैसी आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने से भी बाज़ नही आ रहे हैं। ताज़ा मामला यूपी के गोण्डा से सामने आया है जंहा कटरा बाज़ार थानाक्षेत्र में एक गन्ना किसान कि पीट – पीटकर हत्या कर दी गयी और हत्यारे पुलिस की आंख मर धूल झोंकते हुए फरार हो गए। दो दिन पहले किराए की ट्रैक्टर ट्राली लेकर गन्ना बेचने गए किसान की पीट पीटकर हत्या कर दी गयी …. कटरा बाज़ार थानाक्षेत्र के तिवारी पुरवा गांव के रहने वाले गन्ना किसान राम प्रताप उर्फ नंदू का शव गांव के बाहर सड़क किनारे गेंहू के खेत मे पड़ा मिला ग्रामीणों से सूचना पाकर फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर पंहुची ने जांच पड़ताल शुरू कर दी और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम भेजने के साथ ही हत्यारों की तलाश में जुट गई।
         एक तरफ जंहा सरकारें किसानों को लाभ व सुरक्षा देने की बात कह रही हैं तो वंही प्रदेश में किसानों के प्रति अपराध कम नही हो रहे है और किसानों की हत्याएं आम होती जा रही है। गोण्डा में हुई गन्ना किसान की हत्या ने जंहा सरकार के दावों की पोल खोल दी है तो वंही थाने में अपने पिता के हत्या की शिकायत लेकर पंहुचे नाबालिग बेटे बृजेश ने रोते हुए बताया कि उडिला गांव ने धूल सिंह ने शराब पीकर हमारे पापा की पीट – पीटकर हत्याकर दी और फिर पुल के नीचे खेत मे फेंक दिया …. हम चाहते हैं कि धूल सिंह को फाँसी की सज़ा दी जाए। किसान की हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिसिया कार्यशैली से नाराज हो थाने पर जमकर प्रदर्शन किया …. ग्रामीणों के अनुसार मृत किसान राम प्रताप के शरीर पर चोट के गंभीर निशान मिले हैं जिससे ग्रामीणों का दावा है कि राम प्रताप को पीट पीट कर मार डाला गया। मृतक की पत्नी शीला ने धूम सिंह व प्रताप सिंह पर अपने पति की हत्या करने का आरोप लगाते हुए थाने मे नामजद तहरीर दी जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्जकर आगे की वैधानिक कार्यवाही शुरू कर दी है।
          फिलहाल इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए जिले के एएसपी महेंद्र कुमार ने कहा कि परिजनों द्वारा शव मिलने की सूचना मिली थी जिस पर संबंधित थाने की पुलिस ने मौके का मुआयना कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।