उत्तर प्रदेश गोंडा स्वास्थ्य

अनुबंध हुआ समाप्त, चंदन डायग्नोस्टिक सेंटर की सेवाओं पर लगी रोक

Written by Ashfaq shah

जिला चिकित्सालय की सेवाओं पर पड़ सकता है असर

गोोण्डा !  प्रादेशिक स्वास्थ्य सेवा के अंतर्गत संपूर्ण प्रदेश में जांच हेतु अनुबंधित किए गए मैसर्स चंदन डायग्नोसिस का अनुबंध 31 अप्रैल तक ही था जिसका रिन्यूअल ना होने के कारण तय समय पर शासन ने अनुबंध को समाप्त कर दिया इसके चलते संपूर्ण देश से चंदन डायग्नोस्टिक सेंटर पर जिला चिकित्सालय के द्वारा आवंटित किए गए काउंटरों को बंद कर दिया गया और तत्काल प्रभाव से उनकी सेवाओं पर रोक लगा दी गई है !

इस संबंध में जानकारी देते हुए अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉक्टर रतन कुमार ने बताया के चंदन डायग्नोसिस सेंटर की सेवाओं को प्रदेश स्वास्थ परिवार कल्याण निदेशक स्तर पर विभाग के द्वारा किया गया अनुबंध 31 मार्च को समाप्त हो गया, जिस के निर्देशानुसार जिले में चिकित्सालय में बने चंदन डायग्नोसिस सेंटर के कर्मचारियों एवं काउंटर से सेवाओं पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है इस संबंध में मरीजों को होने वाली परेशानी एवं उन पर पड़ने वाले प्रभाव पर बातचीत करते हुए जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने बताया की काउंटर के बंद हो जाने से मरीजों पर इसका आंशिक असर पड़ेगा परंतु जांच एवं सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी शासन द्वारा चिकित्सालयों में स्थापित किए गए पूर्व में लैब एवं पैथोलॉजी को अपग्रेड किया गया है जिसमें पी यू सिटी कछ की भी स्थापना की गई थी जिसमें समस्त जांचे पूर्व से ही की जा रही है सारी जांचें यहां उपलब्ध है जिससे कोई विशेष प्रभाव यहां आने वाले मरीजों एवं लोगों पर नहीं पड़ेगा