महाराष्ट्र लाइफस्टाइल

अखंड राजपूताना सेवासंघ का होली मिलन समारोह सम्पन्न

अखंड राजपूताना सेवासंघ वसई-विरार शहर के तत्वावधान में होली मिलन समारोह का आयोजन संपन्न हुआ!!

वसई (मुम्बई):- अखंड राजपूताना सेवासंघ वसई-विरार शहर के तत्वावधान में होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में (पूर्व गृहराज्यमंत्री) कृपाशंकर सिंह, (पूर्व मंत्री) चन्द्रकॉत त्रिपाठी, महापौर रूपेश जाधव, उमेश नाईक (पूर्व महापौर), (पूर्व ट्रस्टी -सिद्धिविनायक ट्रस्ट) उदय प्रताप सिंह, (पूर्व निदेशक -शिक्षा विभाग ,महाराष्ट्र ) आर आर परदेशी, (राष्ट्रीय अध्यक्ष ,अखंड राजपूताना सेवासंघ) आर पी सिंह, एवं वीशिष्ठ अतिथि के रुप में मिरा-भाइंदर नगरसेवक श्रीप्रकाश सिंह(मुन्ना), उमाशंकर सिंह सिसोदिया, सुरेश पी सिंह-वरिष्ठ उपाध्यक्ष-अखंड राजपूताना सेवासंघ, सभाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह (राष्ट्रीय महासचिव), प्रमुख अतिथि श्रीमति डॉ भाग्यलक्ष्मी मीटिंग, अमित के सिंह (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ), ओमप्रकाश सिंह (राष्ट्रीय उपाध्यक्ष)श्री बलवंत सिंह (राष्ट्रीय संगठन सचिव), रामविलास सिंह (अध्यक्ष मुंबई प्रदेश), ब्रह्मदेव सिंह (संरक्षक), रंजना एस सिंह (राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष ),वसई-विरार महीलाध्यक्षा गीता सिंह, सुरेन्द्र उपाध्याय द्वारा संयुक्त रूप से रविप्रकाश सिंह का जन्मदिन केक काटकर मनाया।

इसके साथ ही महीलाओ के सम्मान में नवनिर्वाचित नगरसेविका अलका राजपूत को सम्मानित किया। साथ ही नालासोपारा महीला टीम की घोषणा करते हुए पूनम सिंह को महीला अध्यक्षा, सविता सिंह को उपाध्यक्ष एवं निलम सिंह को महासचिव पद की जिम्मेदारी सौपी। तथा जरूरतमंद बच्चों को नि:शुल्क नोटबुक व पॉउच वितरित किया।

इस दौरान कृपाशंकर सिंह ने कहा कि क्षत्रिय का मतलब सभी को समाहीत करने की क्षमता रखने वाला ही क्षत्रिय कहलाता है।कृपाशंकर सिंह ने अपने संबोधन मे कहा कि यदि महाराष्ट्र मे यदि कभी जरूरत पड़ी तो हमारा समाज ख़ून देने वालो मे पहली पंक्ति मे दिखाई देगा। चन्द्रकॉत त्रिपाठी ने जातिय कट्टरवाद की निंदा करते हुए समाजिकता के लिए अखंड राजपूताना सेवासंघ की भूरी भूरी प्रसन्नता व्यक्त की ।

कार्यक्रम के आयोजक के रूप मे वसई विरार युवाध्यक्ष रंजीत सिंह एवं महीला ज़िलाध्यक्ष गीता सिंह ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस दौरान मुख्यरुप से मनीष सिंह ,एडवोकेट अरूण प्रताप सिंह, प्रिंस सिंह, भरत सिंह, राकेश सिंह सिकरवार, अभिषेक सिंह, रामेश्वर सिंह, डॉ.महाबली सिंह, अरविन्द सिंह क्षत्रीय, हनुमान सिंह, सत्यप्रकाश सिंह, इन्द्रमणि सिंह, संजय सिंह, योगेन्द्र सिंह कौशिक, आनंद प्रकाश सिंह, अजीत नंदलाल सिंह, अजीत सिंह चौहान, अवधेश सिंह, दीपक नंदलाल सिंह, बृजेश आर सिंह, के के सिंह, के पी सिंह, विजेन्दर, मनोज सिंह, विनोद सिंह गहरवार, राजीव सिंह, कमलेश प्रताप सिंह, अजय सिंह, रंजीत एस सिंह, कृष्णा सिंह सिसोदिया, राकेश सिंह राणा, रवि सिंह, मृतुंजय शाही, मुन्ना सिंह, डॉ.ओम नारायण सिंह (राष्ट्रीय अध्यक्ष -राजपूत एकता फ़ाउंडेशन ), दिलीप सिंह, नितेश सिंह, दिवाकर सिंह, विनोद सिंह(मिरारोड), नवीन सिंह, प्रभात सिंह, राजेश जगदीश सिंह ,रवि प्रताप सिंह ,आर बी सिंह ,एस बी सिंह ,दिवाकर सिंह ,अजीत सिंह ,डबलू सिंह सहित बड़ी संख्या में राजपूत समाज के लोग उपस्थित रहे।

संस्था के राष्ट्रीय राजपुरोहीत कमलेश दूबे,ब्राह्मण समाज से आर पी पॉडे, आनंद दूबे, आदिनाथ पॉडे, आनंद पांडे, अखिलेश मिश्रा, राधेश्याम विश्वकर्मा,राजू विश्वकर्मा, शैलेश जाधव एवं मित्रमंडल, बहुजन विकास अघाडी के पदाधिकारियों की टीम उपस्थित रहे ।