उत्तर प्रदेश गोंडा लाइफस्टाइल स्वास्थ्य

सैंकडों ग्रामीण हुए फूडप्वाजनिंग का शिकार, स्थिति काबू में

परसपुर गोण्डा। मुंडन संस्कार में शामिल हुए सैकडों ग्रामीणों को फूडप्वाजनिंग का शिकार होना पडा। अस्वस्थ हुए ग्रामीणों की संख्या इतनी ज्यादा थी कि उन्हें स्थानीय सीएचसी, निजी चिकित्सालयों सहित गांव में भी इलाज के लिए प्रयास करना पडा।

शुक्रवार को परसपुर के ग्राम पसका के निहाल वैशपुरवा निवासी रामराज सिंह के यहां मुण्डन संस्कार का कार्यक्रम था, जिसमें आस पास सहित दूर दराज से सैकडों लोगों की भागीदारी थी। कार्यक्रम के दौरान परासे गये व्यंजन से किन्ही कारणों से भोजन कर रहे लगभग सभी लोगों को फूड प्वाजनिंग का शिकार होना पडा। स्थानीय सूत्रों की माने तो रात तो किसी तरह बीत गयी सुबह होते होते रात को खाना खाये लगभग सभी लोगों की तबीयत खराब होने लगी। आनन फानन में कुछ को निजी चिकित्सालय तो कुछ को स्थानीय सीएचसी तो कुछ का गावं में ही इलाज आरम्भ कर दिया गया।

प्रधान पसका प्रतिनिधि पिन्कू सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि लगभग ढाई से तीन सौ लोग इस फूड प्वायजनिंग का शिकार हुए है जिनका इलाज जारी है फिलहाल किसी की भी स्थिति नाजुक नही है सभी लोग स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे है।