अंतर्राष्ट्रीय अपराध

श्रीलंका धमाकों का मुख्य आरोपी पहुचां 72 हूरों के पास

Written by Vaarta Desk

राष्ट्पति मैत्रिपाला सिरिसेना ने दी जानकारी

श्रीलंका। रविवार को ईसाई समुदाय के पवित्र त्योहार ईस्टर पर एक साथ हुए कई धमाके जिसमें लगभग 300 लोगों को मौत के मूहं मं समाना पडा, इन धमाकों का मुख्य आरोपी जहरान हाशिम भी इन्ही धमाकों में मारा गया है। यह जानकारी श्रीलंका के राष्ट्पति मैत्रिपाला सिरिसेना ने दी है।

ज्ञात हो कि विगत रविवार को हुए इन धमाकों के बाद जहां श्रीलंका के पुलिस प्रमुख पुजित जयसुंन्दर तथा श्रीलंका के रक्षा सचिव हेमासिरी फर्नेडों ने भी अपने पद से त्यागपत्र दे दिया है। जहरान हाशिम ने अपने सात अन्य सहयोगियों के साथ मिल कर इन घटनाओं को अंजाम दिया था। हाशिम स्थानीय इस्लामिक समूह नेशनल तौहीद जमात का मुखिया था तथा कुख्यात इस्लामिक आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के साथ मिल उसके लिए ही काम कर रहा था और पिछले काफी समय से अपने भडकाउ भाषणों से एक समुदाय को दूसरे समुदाय के भडका रहा था।

जहरान हाशिम की बहन हाशिम मदानिया ने एक प्रमुख विदेशी चैनल से हुयी वार्ता के दौरान अपने भाई के इस कृत्य की निंदा करते हुए कहा कि उसे हाशिम के इस कृत्य की जानकारी मीडिया के माध्यम से ही हुयी है।

हालाकिं यहा यह भी बताना आवश्यक है कि हाशिम की बहन का सार्वजनिक तौर पर अपने भाई की निन्दा करना कहा तक सही है जबकि इन्ही धमाकों के एक अन्य आरोपी के घर पर गिरफतारी के लिए पुलिस के पहुचतें ही उसकी गर्भवती बीबी ने अपने दो बच्चों के साथ खुद को एक धमाका कर उडा लिया था, ऐसे में हाशिम की बहन का यह कुबूलनामा भी एक नाटक ही हो सकता है। संभव यह भी है कि आने वाले समय में सुश्री मदानिया का भी ऐसे ही किन्ही धमाकों में नाम सामने आये जिसमें सैकडो ंनिर्दोषों की जान चली जाये।