अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा लाइफस्टाइल

पात्र गृहस्थी कार्डधारकों के साथ हो रहा खेल, की जा रही धन उगाही, पूर्ति निरीक्षक पर लग रहे गंभीर आरोप

Written by Pankaj Dixit

विकास खंड रुपईडीह के अंतर्गत ग्राम पंचायत वीरपुर भोज में सप्लाई इंस्पेक्टर के इशारो पर धन उगाही की नियत से की जा रही पात्र ग्रहस्थी कार्डधारक़ो की नाम कटौती ।

गोंडा । मामला गोंडा जनपद के विकास खंड रूपईडीह के अंतर्गत ग्राम पंचायत वीरपुर भोज का है जंहाँ कार्ड फीडिंग और नाम कटौती क़ो लेकर व्यापक अनियमिततताय व्याप्त है जिसमे धन उगाही की नियत से पात्र लाभार्थियों के परिवार का नाम बीच बीच में काट दिया जाता है उसके बाद पुनः फीड कराने के लिए 200 रुपया प्रति कार्ड वसूल किया जाता है , यह खेल काफी दिनो से चलता आ रहा है , ग्राम वासियों आज दिनांक 19-5-2019 क़ो जब राशन लेने उचित दर विक्रेता की दुकान पहुचे तो पता चला की उनके परिवार के आधे से अधिक परिवारो का नाम राशन कार्ड से उड़ा दिया गया है जिससे उनको पर्याप्त राशन नही मिल पाया जिससे वह मायूस होकर आधा अधूरा राशन लेकर घर वापस आ गए ।

उक्त प्रकरण की जानकारी अधिवक्ता / सामाजिक कार्यकर्ता पंकज कुमार दीक्षित क़ो हुई तो उन्होने सप्लाइ इंस्पेक्टर बालेश्वर त्रिपाठी से बात किया तो उन्होने कोई उचित जबाब ना देकर मामलें क़ो घुमाने का प्रयास किया और बताया की हमारे विभाग से नही काटा गया है यह आधार कार्ड डाटा का मामला है जबकि पंकज दीक्षित ने बताया की अभी कूछ दिन पहले मैने अपने परिवार का आधार नाम और सूचनाएं जिला पूर्ति विभाग से कराया था उसके बाद आज ऑनलाइन चेक किया तो आधे से अधिक परिवार का नाम गायब दिखा ।

यहाँ यह भी बताना आवश्यक व उचित प्रतीत हो रहा है की धन उगाही और कालाबाजारी बालेश्वर त्रिपाठी सप्लाई इंस्पेक्टर के इशारो पर हो रही है जंहाँ पर कई ऐसे परिवार में अरसों से मृतक का नाम फीड कराके अनुचित लाभ लेकर राशन देकर लगातर मुहैया करा रहे है जिनका नाम कटना चाहिए उनके परिवार से अनुचित लाभ लेकर मृतको का नाम नही कटवा रहे है ।

उक्त के समंध में जिला पूर्ति अधिकारी से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो उनका निजी और सी यू ज़ी दोनो नंबर नही उठा ।

उपरोक्त प्रकरण जांच का विषय है यदि जिला प्रशासन ने संज्ञान लेकर जांच कराकर उचित कार्यवाही नही किया तो उक्त प्रकरण की जांच लोकायुक्त से कराने हेतु ग्रामवासियों क़ो मजबूर होना पड़ेगा ।