अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा

जिला प्रसाशन का नाकारापन उजागर, हाई सिक्योरिटी जोन से मिली युवक की सड़ी लाश

गोण्डा ! वैसे तो प्रसाशन की उदासीनता और निकम्मेपन के सबूत आये दिन मीडिया की सुर्खिया बनती रहती है परन्तु यह मामला अपने आप में ही अनोखा है जिसमे जिले के विकास की अहम् जिम्मेदारी संभाले विकास भवन जिसमे मुख्य रूप से मुख्य विकास अधिकारी सहित अन्य प्रमुख विभागों के आलाकमान अपने अमले के साथ विराजते है इतना ही नहीं इस भवन में जिलाधिकारी और पोलिस अधीक्षक का भी आये दिन आना जाना लगा रहता है, अब ऐसे उच्च सुरक्षा वाले भवन के एक हिस्से से किसी युवक की लाश मिले और वोह भी पूरी तरह सड़ी हुई तो इसे प्रसाशनिक अमले का निकम्मापन न कहा जाए तो क्या कहा जायेगा !
जी हाँ हम बात कर रहे हैं गोंडा के विकास भवन की सोमवार को इस सरकारी भवन के पीछे बंद पड़े गोदाम में एक युवक की सड़ी हुई लाश मिलने से सनसनी फैल गई …. मामला यूपी के गोंडा से सामने आया है जहां विकास भवन के पीछे एक सरकारी बंद पड़े गोदाम में युवक की लास उस समय लोगों को मिली जब लाश से बदबू आने लगी। बदबू की भनक लगने पर लोगों ने गोदाम में जाकर देखा तो उन्हें युवक की तीन – चार दिन पुरानी सड़ी हुई लाश दिखाई दी …. लाश के मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई और लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी …. मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के साथ ही लाश को पोस्टमार्टम के लिए जहां भेजा तो वही युवक की शिनाख्त भी शुरू कर दी।
नगर कोतवाली क्षेत्र में स्थित पीसीएल के सरकारी गोदाम में तीन चार दिन पुरानी सड़ी लाश की शिनाख्त में जुटी पुलिस ने गोदाम के ही चौकीदार गोरखपुर से सहजनवा निवासी रामकृपाल यादव के रूप में की जो 2 दिन की छुट्टी के बाद भी गोदाम में ही रखवाली के लिए तैनात था। हाई सिक्योरिटी जोन माने जाने वाले विकास भवन परिसर के पास शव मिलने की सूचना मिली तो पुलिस महकमें मे खलबली मच गई … आनन फानन में एएसपी भी मौके पर पहुंचे और सीडीओ के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया …. एएसपी ने नगर कोतवाल व संबंधित चौकी पुलिस को मामले की गहनता से जांच के निर्देश हैं। एएसपी महेंद्र कुमार ने मामले के बारे बताते हुए कहा कि लैकफेड विभाग के अफसरों को घटना की सूचना दे दी गई है …. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है और रिपोर्ट मिलने पर ही सही स्थिति का पता लग सकेगा।