उत्तर प्रदेश गोंडा लाइफस्टाइल

मानसून आया दरवाजे पर तब कुम्भकर्णी नींद से जागा प्रसाशन, तालाबों में भरवाया पानी

सीडीओ ने स्वयं की उपस्थिति में तालाब में भरवाया पानी

तालाबों में पानी भरवाने का काम युद्धस्तर पर कराने के आदेश, सीडीओ ने मांगी सूची
गोण्डा ! देश के कई हिस्सों में पड़ रही भीषण गर्मी के लगभग तीन माह होने को है, मानसून प्रदेश में दस्तक देने को तैयार है लेकिन पशुओं को हो रही परेशानी पर प्रसाशन अभी तक उदासीन रहा, लगभग एक माह बाद मानसून प्रदेश में दस्तक देगा जिससे तालाब भी भर जायेंगे और पशुओं को भी इस भयंकर परेशानी से निजात मिल जाएगी तब प्रसाशन अपनी कुम्भकर्णी नींद से जागते हुए अपनी उपस्थिति का अहसास दिलाने के लिए कमर कस कर तैयार और अपने आप को पशुओं का हितचिंतक दिखाने के लिए तालाबों में पानी भरवाने का ड्रामा आरम्भ कर रहा है !
फिलहाल भीषण गर्मी और लू को देखते हुुए जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल व सीडीओ ने आशीष कुमार ने गावों में पशुओं के पीने के लिए जलाशयों में युद्धस्तर पर पानी भरवाने के निर्देश दिए हैं। मंगलवार को सीडीओ आशीष कुमार ने कई गांवों का दौरा कर स्वयं की उपस्थिति में तालाबों में पानी भरवाया वहीं डीएम के निर्देश पर जिले की ग्राम पंचायतों कें तालाबों में पानी भरने का काम शुरू कर दिया गया है।
मंगलवार को सीडीओ के निर्देश पर चन्दापुर वजीरंगज, बेलसर के चार गांवों में, भटवलिया, पण्डरीकृपाल के इन्द्रापुर, बकठोरवा, सोनबरसा, तरबगंज के होलापुर व अकबरपुर ग्राम पंचायतों के तालाबों में पानी भरा गया। मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि जिले की सभी 1054 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों को सख्त निर्देश दे दिए गए हैं कि वे ग्राम पंचायतों की जरूरत के अनुसार एक से अधिक तालाबों में भी पानी भरवाएं। उन्होने डीपीआरओ को निर्देश दिए हैं कि वे स्वयं इसकी मानीटरिंग करें और पानी भरे जाने वालो तालाबों की सूची उन्हें दें जिसका सत्यापन वे अपने स्तर से कराएंगे।
उन्होने  जनपदवासियों से भी अपील की है कि वे भी बेजुबान जानवरों को भीषण गर्मी के प्रकोप से बचाने के लिए अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होने कहा कि जनसामान्य भी पशुओं और पक्षियों के लिए पीने के पानी रखें। डीपीओरओ ने बताया कि जिलाधिकारी के आदेश के क्रम में सभी ग्राम प्रधानों को तालाबों में पानी भरवाने के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं।