अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा लाइफस्टाइल

दो लेखपालों पर गिरी लापरवाही की गाज, थमाई गई चार्जशीट, जांच के बाद होगी कार्यवाही

सम्पूर्ण समाधान दिवस से नदारद पांच अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब

डीएम ने स्वयं निस्तारित शिकायतों के निस्तारण की परखी हकीकत, फोन मिलाकर शिकायतकर्ताओं

जीवित व्यक्ति को मृतक दिखाने वाले लेखपाल के खिलाफ जांच कर कार्यवाही के निर्देश
गोण्डा ! चुनाव खत्म होने के बाद आयोजित पहले सम्पूर्ण समाधान दिवस में डीएम व एसपी पूरे फार्म में नजर आए। डीएम ने जनशिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले दो लेखपालों के खिलाफ आरोप पत्र देने के साथ ही अनुपस्थित पांच अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया है और अधिकारियों को सख्त चेतावनी दी है कि शिकायतों के निस्तारण का सत्यापन वे स्वयं कर रहे हैं। एक भी शिकायत का निस्तारण फर्जी मिलने पर सीधे निलम्बन की कार्यवाही की जाएगी।
मंगलवार को जिला स्तरीय सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन तहसील मनकापुर में डीएम डा0 नितिन बंसल की अध्यक्षता में आयोजित हुआ जहां पर डीएम के साथ पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह व सीडीओ आशीष कुमार ने फरियादियों की शिकायतें सुनीं। सम्पूर्ण समाधान दिवस में बंजरिया के लेखपाल लल्लू सिंह द्वारा जमीन पर अवैध कब्जे की शिकायत का निस्तारण न करने पर तथा कटहर बुटहनी के लेखपाल रमेश तिवारी द्वारा रास्ते पर अवैध कब्जे की शिकायत का निस्तारण न कराने पर डीएम ने चार्जशीट थमा दी है। वहीं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अन्तर्गत ग्राम बंदरहा निवासी सर्वजीत को मृतक होने की रिपोर्ट लगाने वाले लेखपाल अतलीम के खिलाफ जांच कार्यवाही करने के आदेश एसडीएम मनकापुर को दिए हैं। सम्पूर्ण समाधान दिवस में पहुंचते ही जिलाधिकारी ने अधिकारियों की उपस्थिति चेक की तो एक्सईएम सिंचाई, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, पीओ डूडा, सहायक अभियन्ता लघु सिंचाई तथा ईओ नगर पालिका मनकापुर सहित कुुल पांच अधिकारी अनुपस्थित मिले। डीएम ने अनुपस्थित सभी अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया है। सम्पूर्ण समसाधन दिवस में ही डीएम ने पूर्व में निस्तारित शिकायतों केे निस्तारण का सत्यापन करने के लिए शिकायतकर्ताओं के मोबाइल नम्बर पर स्वयं फोन मिलाकर निस्तारण की हकीकत परखी और जिम्मेदार अधिकारियों को चेतावनी दी कि वे सब शिकायतों के निस्तारण में रूचि लेकर सही और न्यायपूर्ण निस्तारण करें। उन्होने कहा कि वे स्वयं निस्तारण का सत्यापन कर रहे हैं इसलिए सभी अधिकारी सतर्क हो जाएं। शीतलगंज सैजलपुर निवासी वंशीधर दूबे ने बताया कि 15 माह पूर्व उसके बेटे की मृत्यु हो गई थी परन्तु आज तक उसे पारिवारिक लाभ योजना का लाभ नहीं मिला है। डीएम ने एसडीएम मनकापुर को जांच कर तत्काल कार्यवाही कराने के निर्देश दिए हैं।
थाना खोड़ारे अन्तर्गत बभनजोत निवासिनी सुन्दरदेेवी पत्नी रामप्रताप की शिकायत पर एसपी ने सीओ मनकापुर को स्वयं जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। सीडीओ ने बैरीपुर रामनाथ निवासी वेदप्रककाश तिवारी पुत्र श्ुाभकरन ककी शिकायत पर बन्द पड़े नलकूप की जांच कर तत्काल चालू कराने के निर्देश एक्सईएन नलकूल को दिए हैं। बाबूलाल पुत्र केशवराम निवासी चारू ने शिकायत की उसके गांव में बिना सोलर लाइट लगाए ही ग्राम प्रधान द्वारा पैसा निकाल लिया गया है। सीडीओ ने मामले की जांच कर एक सप्ताह के अन्दर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं। शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि अब तक इस वर्ष तहसील मनकापुर में 1045, गोण्डा में 1421, तरबगंज में 828 तथा करनैलगंज में 1090 शिकायतें आई हैं जिनका निस्तारण कर दिया गया है। सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल एक सौ पांच शिकायतें प्राप्त हुईं जिनमें से चार शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया। शेष शिकायतों के निस्तारण के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।
सम्पूर्ण समाधान दिवस में एसडीएम मनकापुर वीर बहादुर यादव, सीओ मनकापुर एस0के0 रवि, तहसीलदार बृजमोहन, पीडी सेवाराम चाौधरी, डीडीओ रजत यादव, डीपीआरओ घनश्याम सागर, बीएसए मनीराम सिंह, डीसीओ ओपी सिंह, सीवीओ डा0 आरपी यादव, डीपीओ दिलीप पाण्डेय, डीएसओ वी0के0 महान, जिला कृषि अधिकारी जेपी यादव सहित अन्य अधिकारी व फरियादी मौजूद रहे।