अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा लाइफस्टाइल

खाद्यान्न वितरण में मिली अनियमितता तो अब सीधे दर्ज होगी प्राथमिकी, डी एम् नितिन बंसल ने दिया अल्टीमेटम

25 तक हर हाल में कराना होगा वितरण, डीएम ने दिए निर्देश
गोण्डा ! जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने आपूर्ति विभाग में भी बेहतरी के लिए सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। शनिवार को डीएम ने कलेक्ट्रेट सभागार में रसद विभाग से जुड़े अधिकारियों सहित पूर्ति विभाग के कम्प्यूटर आपरेटरों को भी मीटिंग में तलब कर साफ शब्दों में चेतावनदी दे दी है।
जिलाधिकारी ने मीटिंग में सख्त निर्देश दिए कि 25 जून तक पूरे जिले में ई-पाॅश मशीनों के माध्यम से राशन का शत-प्रतिशत वितरण करा दिया जाय। उन्होने सभी पूर्ति निरीक्षकों को अल्टीमेटम दे दिया है कि अब कहीं भी और किसी भी स्तर पर यदि उनकी संलिप्तता पाई गई तो वे सीधे एफआईआर दर्ज कराकर जेल भेजवाएगें। इसके अलावा निलम्बित दुकानों को एक सप्ताह के अन्दर बहाल अथवा उसकी जगह नया आवंटन कराकर रिपोर्ट देने के निर्देश सभी उपजिलाधिकारियों को दिए हैं। रिक्त दुकानों के लिए तत्काल प्रस्ताव तैयार कराकर आवंटन कराने के निर्देश एसडीएम व बीडीओ को दिए गए हैं। एआरओ को भी स्पष्ट चेतावनी दी है कि वे अपनी मानीटरिंग का दायरा बढ़ाएं और प्रत्येक दशा में यह सुनिश्चित कराएं कि कोई भी कार्ड धारक राशन पाने से वंचित न रहने पावे। वहीं राशन कार्डों की आधार सीडिंग युद्धस्तर पर कराने के निर्देश डीएसओ को दिए हैं। वहीं कम्प्यूटर आपरेटरों को भी सख्त चेतावनी दी है कि पेसा लेकर यूनिट कम ज्यादा करने वाले आपरेटर सतर्क हो जाएं। यदि कोई इस प्रकार की शिकायत मिली कि पैसा लेकर राशन कार्ड से नाम काट दिया या जोड़ दिया तो निश्चित ही कठोर कार्यवाही होगी। उन्होने डीएसओे को निर्देश दिए कि वे इसकी कड़ी मानीटरिंग करें और यह सुनिश्चित कराएं कि कोई भी पात्र व्यक्ति राशन कार्ड पाने सेे वंचित न रहने पावे। डीएम ने कहा कि कुछ जगहों से यह भी शिकायतें मिली हैं कि कोटेदार कार्ड धारकों को युनिट के सापेक्ष कम राशन देते हैं। उन्होने स्पष्ट किया ऐसे कोटेदार खुद ही सुधर जाएं अन्यथा कड़ी कार्यवाही होगी। इसके अलावा पूर्ति निरीक्षकों को सचेत किया कि वे भी कोटेदारों से किसी भी तरह की गलत अपेक्षाएं अपने दिमाग से निकाल दें। उन्होने स्पष्ट किया कि हर हाल में वितरण व्यवस्था को बेहतर बनाना है। इसलिए सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों भ्रमणशील रहकर वितरण व्यवस्था सुदृढ़ कराएं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार, एडीएम रत्नाकर मिश्र,  एसडीएम सदर नितिन गौड़, एसडीएम करनैलगंज आर0के0 वर्मा, एसडीएम तरबगंज संगमलाल यादव, जिला पूर्ति अधिकारी वी0के0 महान, डिप्टी आरएमओ, सभी तहसीलदार, एआरओ व पूर्ति निरीक्षकगण तथा पूर्ति कार्यालय के कम्प्यूटर आपरेटर मौजूद रहे !