अपराध उत्तर प्रदेश गोंडा राजनीति

योगी की छीछालेदर करा कर मानेंगे ये भाजपा के विधायक

सरकारी कर्मचारी के साथ की मारपीट जमानत पर बाहर चल रहे विधायक बावन सिंह के पुत्र मोनू ने

गोंडा ! सत्ता की हनक बीजेपी नेताओं पर इस कदर हावी है कि जमानत पर बाहर होते हुए भी अपनी दबंगई दिखाने से नहीं चूक रहे…. मामला गोण्डा के कटरा विधान सभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक बावन सिंह से जुड़ा हुआ है …. जहां इनके सुपुत्र की गुंडई सामने आई है। भाजपा विधायक के बेटे मोनू सिंह उर्फ वैभव सिंह ने सत्ता की हनक दिखाते हुए एक सरकारी कर्मचारी से कार्यालय में घुसकर मारपीट की है ….

भाजपा के कटरा विधान सभा के विधायक बावन सिंह के जमानत पर जेल से बहार चल रहे पुत्र वैभव सिंह उर्फ़ मोनू व उनके गुर्गों पर आरोप है कि उन्होंने कृषि उत्पादन मंडी समिति के सचिव मो इसराइल को धमकाया और मारपीट की। पूरे मामले में बताया जा रहा है कि सफाई का टेंडर न मिलने व पुराना पेमेंट न होने से विधायक पुत्र मोनू नाराज थे …. पीड़ित सरकारी कर्मचारी ने बताया कि बीजेपी विधायक बावन सिंह के बेटे वैभव सिंह अपने 30 – 35 गुर्गों के साथ दफ्तर में घुस आए …. दफ्तर में तोड़ – फोड़ की और मंडी सीमित सचिव को विधायक के बेटे और उनके गुर्गों ने मारा भी ….

यहाँ यह भी बताना आवश्यक है की विधायक पुत्र वैभव सिंह उर्फ मोनू पहले से ही एक चिकित्सक से हुए विवाद को लेकर चल रहे मामले में जमानत पाए हुए हैं। इस पूरे मामले पर पीड़ित की तहरीर पर कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्जकर की जांच शुरू कर दी है …. वंही जिले के एसपी लल्लन सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ सरकारी कर्मचारी से मारपीट को लेकर धारा 332 – 148 – 149 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। फ़िलहाल देखना यह है की क्या पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेते हुए न्यायालय को प्रकरण से अवगत कराते हुए विधायक पुत्र की जमानत रद्द कराने का प्रयास करती है या शासन सत्ता के दबाव में पुराने सरकारों के पद चिन्हों पर चलते हुए अपनी आँख और कान पर पर्दा दाल कर बैठती है !