महाराष्ट्र व्यवसाय

राजपूत समाज को जाता है मुंबई में पहला पोर्ट बनाने का श्रेय :- डा0 राजेन्द्र प्रताप सिंह

राजपूत समाज हो रहा है आरक्षण से मुक़ाबला के लिए तैयार

अखंड राजपूताना ट्रेड हाऊस में अनुभवी राजपूत उद्यमियों ने नये लोगों को सिखाये सफलता के गुर

मुंबई ! अखंड राजपूताना सेवा संघ से संबद्ध अखंड राजपूताना ट्रेड हाऊस में अनुभवी राजपूत  उद्यमियों ने  नये लोगों को सफलता के गुर सिखाये। मुंबई के नरिमन प्वाईंट स्थित वाई.वी. चव्हाण सभागृह में आयोजित बिजनेस समिट में उद्यमियों ने कहा कि सफलता के लिये आपको नयी ज़िम्मेदारियाँ  लेने के लिये हमेशा तैयार रहना होगा। इस कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के रुप में राजपूत उद्यमियों को संबोधित करते हुये महाराष्ट के पूर्व गृह राज्य मंत्री और कांग्रेस के नेता कृपाशंकर सिंह ने कहा कि आज के दौर में सफल होने के लिये आप किसी पर निर्भर नहीं रह सकते। आपको अपना व्यापार खुद चुनना होगा और उसकी खुबियों की बदौलत आप सफलता पा सकते हैं।
इस अवसर पर योगायतन समूह के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डाक्टर राजेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि आजादी के बाद मुंबई में पहला पोर्ट बनाने का श्रेय अगर किसी को जाता है तो वह हमारे समाज को जाता है। राजपूत समाज को अपनी शक्ती पहचानने की जरुरत है। डाक्टर राजेन्द्र प्रताप सिंह ने कृपाशंकर सिंह की तारीफ करते हुये उन्हे राजपूतों का सुत्रधार कहते हुये उन्हे अजातशत्रु बताया। बिजनेश समिट को संबोधित करते हुये कृष्टल ग्रूप आॅफ कंपनी के संस्थापक एवं उद्यमी और भाजपा नेता प्रसाद लाड ने कहा कि मराठा और राजपूत एक हैं। महाराष्ट में उन्हे मराठा कहते हैं और दुसरे जगहों पर उन्हे राजपूत कहते हैं। राजपूतों को भविष्य को ध्यान में रखते हुये कुछ नया करने की जरुरत है। उन्होने घोषणा की कि अगला बिजनेस समिट षडमुखानंद हाल में होगा।
बिजनेस समिट को संबोधित करते हुये मार्डन वीआर सिक्युरिटी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक ज्ञान प्रकाश सिंह ने कहा कि सफलता पाने वाला व्यक्ति कभी भी अनिश्चितता से नहीं घबड़ाता अनिश्चितता के घबड़ाकर कई इंसान नये कदम उठाना बंद कर देते हैं। आपको खुद अपनी खुबियों के बारे में पता लगाना होगा। इस अवसर पर उद्यमी चित्रसेन सिंह ने कहा कि आज सरकारी नौकरियां लगभग खत्म हो गयी हैं। सरकार भी एससी एसटी  कानून में हमारा साथ नहीं दे रही है। आज जरुरी है कि राजपूत समाज के युवा  नौकरी करने वाले नहीं बल्की नौकरी देने वाले बनें। उन्होने आरक्षण को राजपूत समाज के खिलाफ बताया। उद्यमी अरुण सिंह ने इस बिजनेस समिट को संबोधित करते हुये कहा कि दुनिया तेजी से बदलरही है। हमें अपने अंदर की खुबियों को समझने की जरुरत है। उन्होने कहा कि आज दुसरे समाज के उद्ममी एक हो गये हैं हमें भी एक दुसरे को साथ लेकर आगे बढ़ने की जरुरत है। उन्होने कहा कि आज आयडिया बिकता है अगर आपके आयडिया में दम है तो आपकी कामयाबी कोई नहीं रोक सकता है। इस समिट को संबोधित करते हुये उद्यमी ब्रम्हदेव सिंह ने कहा कि हमारा समाज कहीं से भी कमजोर नहीं है। हर क्षेत्र में हम आगे हैं। राज रियलटी के सुरेश सिंह ने इस अवसर पर कहा कि बिजनेस के लिये सफलता का मंत्र जानना जरुरी है।
इस बिजनेस समिट में अखंड राजपूताना सेवासंघ के अध्यक्ष आर.पी. सिंह ने कहा कि हमारे समाज के कई युवा उद्ममी बहुत अच्छा काम कर रहे हैं जिनका सम्मान करने की जरुरत है। उन्होने युवा उद्ममी संतोष सिंह और पंकज सिंह का भी वहां मौजूद लोगों से परिचय कराया। मंच से कुछ मीडिया प्रतिनिधियों का सम्मान किया गया जिसमे नवभारत के ब्रजमोहन पांडे ,नवभारत टाईम्स से राजकुमार सिंह ,दैनिक भास्कर के विजय सिंह कौशिक रहे है ।इस बिजनेस समिट में महेन्द्र सिंह , रामनवल सिंह, रामविलास सिंह , संस्था के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष  अजय सिंह, उत्तर प्रदेश उपाध्यक्ष प्रशांत शाही ,पंकज सिंह, सिद्धार्थ सिंह , स्नेहल परदेशी,रीता सिंह ,अल्का राजपूत,अरविंद सिंह ,हनुमान सिंह ,सत्यप्रकाश सिंह ,बलवंत सिंह ,रमाकॉत सिंह,ओमप्रकाश सिंह , सूमिता सुमन सिंह,प्रभाकर सिंह ,मनीष सिंह  ने भी संबोधित किया। अतिथियों का आभार संस्था के  राष्ट्रीय महासचिव अशोक कुमार सिंह ने किया ।

About the author

राजेंद्र सिंह

राजेंद्र सिंह (सम्पादक)

%d bloggers like this: