राष्ट्रीय व्यवसाय

ये पांच बैंक दे रहे सेविंग अकाउंट पर 7.5 प्रतिशत का ब्याज, जानिए इन बैंकों के बारे में

नई दिल्ली। बैंक में सेविंग अकाउंट का मतलब होता है, पैसे को जमा करना और जरूरत के समय उसे निकाल लेना. सेविंग अकाउंट के पैसे भले कितने दिन भी क्यों न रहे बैंक उसपर कोई ब्याज नहीं देता है. लेकिन सोचिए अगर बैंक इन रकम पर भी एफडी जितना ब्याज देने लगे.

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार देश के पांच बैंक ग्राहकों को सेविंग अकाउंट पर भी 7.5 प्रतिशत का ब्याज दे रही है. इनमें कुछ बैंकों ने ये नियम अभी लागू किया है तो कुछ बैंक दो साल से ये फायदा ग्राहकों को दे रही है. आइये जानते हैं उन पांच बैंकों के बारे में.

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक– सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक ग्राहकों को सेविंग अकाउंट पर तीन तरह से लाभ दे रही है. 1 लाख रुपये तक सालाना रखने पर बैंक ग्राहकों को 6.25 फीसदी ब्याज दर के साथ देती है, जबकि 1-10 लाख रुपये रखने पर सलाना 7.25 फीसदी ब्याज देती है. वहीं 10 लाख से अधिक रखने पर बैंक द्वारा 7 फीसदी का ब्याज दर दिया जाता है. वहीं एफडी पर सूर्योदय बैंक ग्राहक को 9 प्रतिशत का ब्याज देती है.

AU स्मॉल फाइनेंस बैंक- यह बैंक भी अपने ग्राहकों को सेविंग अकाउंट में पैसा रखने पर ब्याज देती है. हालांकि इस बैंक की इंटरेस्ट रेट सूर्योदय बैंक से कम है. एयू बैंक में 1 लाख रखने पर 4.5 फीसदी, 1-50 लाख पर 5.5 फीसदी और 50 लाख से 5 करोड़ पर 7 फीसदी का ब्याज दिया जा रहा है. बैंक का यह रेट 15 अप्रैल 2020 से लागू है.

जना स्मॉल फाइनेंस बैंक– यहां भी इंटरेस्ट रेट एयू बैंक की तरह ही है. 1 लाख रुपये तक के बैलेंस पर सालाना 4.5 फीसदी, 1 लाख से लेकर 10 लाख रुपये तक पर सालाना 5.5 फीसदी, 10 लाख रुपये से 5 करोड़ रुपये तक की राशि पर सालाना 7 फीसदी, 5 करोड़ रुपये से ज्यादा राशि होने पर सालाना 7.5 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है. बैैंक का यह इंटरेस्ट रेट 10 अप्रैल से लागू हुआ है.
उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक– इस बैंक में भी इंटरेस्ट रेट एयू बैंक के इंटरेस्ट रेट के समान ही है. 5 लाख रुपये तक की राशि पर सालाना 4 फीसदी, 5 लाख से 50 लाख रुपये तक की राशि पर सालाना 5.50 फीसदी, 50 लाख से 5 करोड़ रुपये तक की राशि पर सालाना 6.75 फीसदी, 5 करोड़ रुपये से ज्यादा राशि पर सालाना 7 फीसदी का ब्याज बैंक अपने ग्राहकों को देती है.
नॉर्थ ईस्ट स्मॉल फाइनेंस बैंक– इस बैंक में रकम की दो कैटगरी डिवाइड कर दिया गया है. पहली कैटगरी में 10 लाख रुपये तक के बैलेंस पर सालाना 5 फीसदी का ब्याज जबकि दूसरी कैटगरी में 10 लाख रुपये और उससे ज्यादा राशि पर सालाना 6 फीसदी का ब्याज ग्राहकों को बैंक देगी.
प्राइवेट बैंक भी देती है ब्याज– इन फाइनेंस बैंकों के अलावा कुछ प्राइवेट बैंक भी लोगों को सेविंग अकाउंट पर ब्याज देती है. इनमें HDFC Bank, RBL Bank और Yes Bank प्रमुख है. हालांकि इन बैंकों में अधिक रकम जमा करने पर ही ब्याज मिलता है

About the author

गरिमा भारद्वाज

वरिष्ठ उप संपादक

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz
%d bloggers like this: