दृष्टिकोण राष्ट्रीय

जनसमस्याओं से जुड़े राष्ट्रपति को 5000 से ज्यादा पत्र भेजने वाला ये व्यक्ति उपराष्ट्रपति पद के लिये भी कर चुका है नामांकन

प्रिय दर्शको, प्रिय पाठको, आज हम आप को बिलकुल अलग विषय पर ले चलते हैं। यह वर्ल्ड रिकॉर्ड से सम्बंधित है। यह ऐसे व्यक्ति के बारे में है जिसे ने भारत के राष्ट्र पति को 1 2 5 10 नहीं बल्कि 5000 से ज्यादा अलग विषयों पर पत्र लिखे हैं।                                                                                                अगर किसी को कोई निजी परेशानी होती है तो वो अपनी उस परेशानी के समाधान हेतु राष्ट्रपति को 5000 बार पत्र भेज सकता है। किसी 1 कॉमन कॉज पर, टॉपिक पर, किसी 1 कॉमन समस्या पर किसी ग्रुप के 5000 लोग राष्ट्रपति को 3000 पत्र भेज सकते हैं। 5000 से ज्यादा अलग / विभिन्न कॉज पर, टॉपिक पर, मामलों पर, मुद्दों पर, विषयों पर, समस्यायों पर अनुरोध, रिक्वेस्ट, सुझाव भेजने वाला 1 ही व्यक्ति है और वो हैं: जीवन कुमार मित्तल।                                                                                                                अगर आप कार्य पालिका, न्याय पालिका, विधायिका आदि के किसी कार्य से परेशान हैं या आप को कार्यपालिका, न्याय पालिका, विधायिका आदि के कार्यों में कोई कमी दिखती है या आप कार्य पालिका, न्याय पालिका, विधायिका आदि की किसी नीति के पक्ष में या विरोध में कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप यह कर सकते हैं। अपनी जरुरत, परेशानी, मन की बात, विचार, समस्या, सोच आदि बताना, अनुचित की आलोचना करना, सुधार हेतु राय, सुझाव देना आदि आप का अधिकार है। इन में से किसी मामले पर आप मैटर बना कर अनुरोध के रूप में

https://helpline.rb.nic.in/GrievanceNew.aspx पर कभी भी बिना खर्च भेज सकते हैं मोबाइल ब्यौरा देना अनिवार्य नहीं है। इ मेल देना अनिवार्य है। अनुरोध भेजते ही Your Request/Grievance Registration Numberis PRSEC/E/2019/00001 स्टाइल में उत्तर आता है। PrSec से सभी पत्र सम्बंधित मंत्रालय, विभाग आदि को जाते हैं।

जीवन कुमार मित्तल ने 2012 से आज तक कार्य पालिका, न्याय पालिका, विधायिका आदि से सम्बंधित विभिन्न आलोचना, कमी, क़ानूनी विसंगतियों, परेशानी, लापरवाही, विरोध, सुझाव आदि पर 2500 से ज्यादा विभिन्न विषयों पर, जन हित के मामलों में, उपरोक्त साइट पर अनुरोध भेजे हैं। उन के अधिकांश पत्र व विभिन्न विभागों से प्राप्त उत्तर www.FaceBook.com/LettersToPresident पर पोस्ट हैं।

आम आदमी की हजारों परेशानियों को, समस्यायों को सर्वोच्च मंच पर निर्भीकता से उठाने वाला 1 ही है और वो हैं जीवन कुमार मित्तल।

99.99999% लोग अपनी विभिन्न जरुरत, परेशानी, मन की बात, समस्या, सोच आदि किसी मंच पर नहीं बता पाते, अनुचित की आलोचना नहीं कर पाते, किसी सुधार हेतु कोई सुझाव, सूचना नहीं दे पाते कार्य पालिका, न्याय पालिका, विधायिका आदि की आलोचना आदि अपराध, अवमानना, देशद्रोह, मान हानि आदि नहीं है।

इस साइट पर हर माह लगभग 2000 अनुरोध आते हैं, जिस में लगभग 3% जीवन कुमार मित्तल की ओर से होते हैं। सिस्टम को सुधारने हेतु सुझाव देना देश भक्ति है, परोक्ष जन प्रतिनिधित्व है।                                                                                             जीवन कुमार मित्तल ने राष्ट्रपति चुनाव, 2012 व 2017 और उप राष्ट्रपति चुनाव 2017 हेतु नामांकन पत्र संसद भवन में राज्य सभा / लोक सभा के महा सचिव के कार्यालय में जा कर भरे थे।                          

जीवन कुमार मित्तल का जन्म अमृतसर में 1956 में हुआ व वे 1966 से दिल्ली में रह रहे हैं। सम्पादक के नाम उन के हजारों पत्र विभिन्न हिंदी दैनिक समाचार पत्रों में छप चुके हैं।

About the author

राजेंद्र सिंह

राजेंद्र सिंह (सम्पादक)

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz
%d bloggers like this: